Pyar bhari shayari

कुछ सोचूं तो तेरा ख्याल आ जाता है;
कुछ बोलूं तो तेरा नाम आ जाता है;
कब तलक बयाँ करूँ दिल की बात;
हर सांस में अब तेरा एहसास आ जाता है।

20190730 120059

Pyar Bhari Shayari


हर बार दिल से ये पैगाम आए;
ज़ुबाँ खोलूं तो तेरा ही नाम आए;
तुम ही क्यूँ भाए दिल को क्या मालूम;
जब नज़रों के सामने हसीन तमाम आए|

20190730 120257


हर खामोशी का मतलब इंकार नहीं होता;
हर नाकामयाबी का मतलब हार नहीं होता;
तो क्या हुआ अगर हम तुम्हें न पा सके;
सिर्फ पाने का मतलब प्यार नहीं होता!

20190730 120449

Pyar Shayari


दिलों की जरुरत कोई क्या समझेगा;
रिश्तों की अहमियत कोई क्या समझेगा;
तेरी मुस्कान ही है मेरी ख़ुशी;
इस ख़ुशी की कीमत कोई क्या समझेगा!

20190730 120652


अगर तुम किसी को दिल की गहराइयों से चाहों;
तो ये उम्मीद मत करो कि वो भी तुम्हे चाहे;
लेकिन चाहों उसे इस कदर टूट के कि;
तुम्हारे सिवा किसी और का प्यार उसे पसंद ही न आए।

20190730 120907

Pyar Bhari Shayari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top