Love Shayari

कभी खुशी की आशा कभी गम की निराशा कभी खुशियों की धूप कभी हक़ीक़त की छाया कुछ खोकर कुछ पाने की आशा शायद यही है ज़िंदगी की सही परिभाषा.

20190713 181846


प्यार मे कुछ कुछ होता है, प्यार मे दिल तो पागल है, प्यार मे कभी  खुशी कभी गम, प्यार एक ऐसी पहेली है जो ना तुम जानो ना हम.

20190713 182111


अपनो को दूर होते देखा, सपनो को चूर होते देखा, अरे लोग कहते हैँ कि फूल कभी रोते नही, हमने फूलोँ को भी तन्हाइयोँ मे रोते देखा.

20190713 182328


गुल को गुलाब बना देते, गुलाब को कमल बना देते, जानम तुम हम पर मरते नहीं वरना जोधपुर में भी ताजमहल बना देते.

20190713 182635


हस्ती मिट जाती है आशियाँ बनाने मे, बहुत मुस्किल होती है अपनो को समझाने मे, एक पल मे किसी को भुला ना देना, ज़िंदगी लग जाती है किसी को अपना बनाने मे.

20190713 182902

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top