Dosti Shayari

Dosti Shayari

*आदतें अलग है हमारी..,*
*दुनिया वालो से..!*

*कम दोस्त रखते है..,*
*मगर लाजवाब रखते है..!*

*क्योंकि बेशक हमारी माला छोटी है..*
*पर फूल उसमें सारे गुलाब के रखते है..*

20190701 123501


*आंखे जो पढ़ ले, उसी को दोस्त मानना साहिब…..*
*वरना….चेहरा तो रोज दुशमन भी देखते हैं….!!!!*

20190701 123608


औकात औरधर्म देख के दोस्ती नही‍ करता जो दिल को अच्छालगता है उसी से दोस्ती करता हूँ
Be_Heartly 

20190701 123719


घर से निकलते वक़्त माँ-बाप की दुआ लेकर चलते है, छोटा हों या बड़ा भाई का साथ देकर चलते है॥
कुत्तों की क्या जरूरत इस दुनिया मैं,
जब साथ मे शेरो जेसे दोस्त पलते है.

20190701 123835


तुम सिखाओ अपने दोस्तों को
हथियार चलाना…
हमारे दोस्त तो पहले से ही बारूद है.. 

20190701 123953