Dard Bhari Shayari

“हम अपना दर्द किसी को कहते नही,
वो सोचते हैं की हम तन्हाई सहते नही,
आँखों से आँसू निकले भी तो कैसे,
क्योकि सूखे हुवे दरिया कभी बहते नही.”

20190730 144937

😥 Dard Bhari shayari 😥


“नदी जब किनारा छोर देती हैं,
राह की चट्टान तक तोर देती हैं,
बात छोटी सी अगर चुभ जाए दिल में तो,
जिंदगी के रास्तों को भी मोर देती हैं.”

20190730 145258

😌 दर्द भरी शायरी 😌


“दूर तक तन्हाई का सफर हैं,
न कोई साथी न हमसफर हैं,
चलते हैं दिल के सहारे ये सोच कर,
की अगले ही मोड़ पे खुशियों का सहर हैं.”

20190730 145543

😪 Dard Shayari 😪


“एक कसक दिल में दबी रह गई,
जिंदगी में उनकी कमी रह गई…,
इतनी उल्फत के बाद भी वो मुझे न मिली,
शायद मेरी किस्मत में ही कुछ कमी रह गई.”

20190730 145744

😌 दर्द शायरी 😌


“दर्द जब आंसुओं में ढल जाए
मेरी आँखों में आके बह जाना
भूल कर काश –म –कश ज़माने की
मेरी बाहों में आके रह जाना..”

20190730 145954

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top