Dard Bhari Shayari

“क्या करूँगा उसका इंतज़ार कर के,
जब चली गई वो मुझे बर्बाद कर के,
सोचा था अपना भी एक जहाँ होगा,
मगर मिली सिर्फ तन्हाई उनसे प्यार कर के.”

20190730 131917


“हर सपना किसी का पूरा नहीं होता,
कोई किसी के बिना अधुरा नहीं होता,
जो रौशन करता हैं सब रातों को….,
वो चाँद भी तो हर रात पूरा नहीं होता.”

20190730 132143

😥 Dard Bhari shayari 😥


“दिल यूँना कभी उदास होता,
जो कोई अपना हमारे पास होता,
यूँ तो हमने साथ दिया अक्सर अपनों का,
पर काश किसी को हमारी तन्हाई का एहसास होता.”

20190730 135001


“यादें होती हैं सताने के लिए,
कोई रूठता हैं फिर मनाने के लिए,
रिश्ता बनाना कोई मुस्किल तो नहीं,
बस जान चली जाती हैं उसे निभाने के लिए.”

20190730 140701


“आज हम भी एक नेक काम कर आए,
दिल की वसीयत किसी के नाम कर आए,
प्यार हैं उनसे ये जानते हैं वो……,
मज़बूरी थी जो झुकी नज़रों से इनकार कर आए.”

20190730 140924

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top