Dard Bhari Shayari

“उसके चले जाने के बाद हम महोबत नहीं करते किसी से .
छोटी सी जिन्दगी है .
किस किस को अजमाते रहेंगे.”

20190730 150125


“साथ नहीं रहने से रिश्ते नहीं टुटा करते
वक़्त की धुंध से लम्हे नहीं टुटा करते
लोग कहते हे मेरा सपना टूट गया
टूटी नींद है सपने नहीं टुटा करते.”

20190730 151726

😥 Dard Bhari shayari 😥


“दर्द ज़ाहिर कभी करने नहीं देता मुझको
अश्क आंखों में भी भरने नहीं देता मुझको
जानता हूँ, कि मैं अब टूट चुका हूँ लेकिन
वो तो इक शख्स बिखरने नहीं देता मुझको.”

20190730 152117


“दर्द की दास्ताँ अभी बाकी है,
महोबत का इम्तेहान अभी अभी बाकी है,
दिल करे तो फिर से वफ़ा करने आ जाना,
दिल ही तो टुटा है,
जान अभी बाकी है..”

20190730 152426


“मुद्तों के बाद उसको किसी के साथ खुश देखा तो एहसास हुआ …
काश की उसको बहुत पहले हे छोड़ दिया होता ….”

20190730 152648

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top